ALL उत्तर प्रदेश उत्तराखंड बिहार नई दिल्ली मुंबई देश-विदेश
उत्तराखंड पुलिस ने सोशल मीडिया के इस्तेमाल को लेकर जारी की एडवाइजरी
April 12, 2020 • A K Singh • उत्तराखंड

उत्तराखंड देहरादून :वर्तमान में कोरोना वायरस संक्रमण के दौरान सोशल मीडिया प्लेटफॉर्म जैसे व्हाट्सएप, आदि का उपयोग फेक न्यूज, गलत सूचनाओं और अभद्र भाषा संदेशों को फैलाने के लिए किया जा रहा है। इसे देखते हुए सोशल मीडिया प्लेटफॉर्म के प्रत्येक उपयोगकर्ता और ग्रुप एडमिन को सलाह दी जाती है कि वे सोशल मीडिया प्लेटफॉर्म का उपयोग जिम्मेदारी से करें।

👉 सोशल मीडिया प्लेटफॉर्म के #सदस्य के रूप में आपकी कुछ जिम्मेदारियां बनती हैं-
🔹 ग्रुपों में फेक न्यूज, अभद्र भाषा या गलत सूचना पोस्ट न करें।
🔹 यदि ग्रुप के अन्य सदस्यों से आपको ऐसी कोई भी खबर प्राप्त होती है, तो उसे आगे फाॅरवर्ड न करें।
🔹 यदि आप इसे आपत्तिजनक पाते हैं या ग्रुप एडमिन ने आपको सूचित किया है, तो उस पोस्ट को तुरंत हटा दें।
🔹 ग्रुप में पोस्ट करने से पहले किसी भी खबर, फोटो, या वीडियो के स्रोत और सत्यता की जांच करें।
🔹 यदि आपको गलत सूचना, फेक न्यूज या अभद्र भाषा का कोई भी पोस्ट मिलता है, तो इसे www.cybercrime.gov.in पर या अपने नजदीकी पुलिस स्टेशन पर रिपोर्ट करें और अपने ग्रुप एडमिन को भी तुरंत सूचित करें।
🔹ऐसी किसी भी सामग्री को शेयर या फाॅरवर्ड न करें जो किसी भी धर्म, राष्ट्र, समुदाय के खिलाफ हिंसक, अश्लील और भेदभावपूर्ण हो।

👉 सोशल मीडिया प्लेटफॉर्म पर ग्रुप बनाने की सूरत में #ग्रुप_एडमिन की भी कुछ जिम्मेदारियां बनती हैं। एडमिन को अपने ग्रुप में शामिल यूजर्स को बताना चाहिए कि वो कोई भी फेक न्यूज, गलत सूचनाओं और अभद्र भाषा संदेशों को पोस्ट ना करें।
🔸 सुनिश्चित करें कि ग्रुप का प्रत्येक सदस्य विश्वसनीय और जिम्मेदार है, जो केवल सत्यापित सूचना ही पोस्ट करे।
🔸 ग्रुप के सभी सदस्यों को ग्रुप में मैसेज पोस्ट करने के नियमों के बारे में सूचित करें।
🔸 सभी सदस्यों को चेतावनी दें और उन्हें आपत्तिजनक सामग्री पोस्ट करने से रोकें।
🔸 ग्रुप में पोस्ट की जा रही सामग्री की सक्रियता के साथ नियमित रूप से निगरानी करें।
🔸 यदि कोई सदस्य आपत्तिजनक सामग्री पोस्ट या शेयर करता है तो पुलिस को सूचित करें।
🔸 ग्रुप एडमिन ग्रुप सेटिंग को केवल एडमिन मोड में बदल लें। यह एक फिल्टर के रूप में कार्य करेगा क्योंकि कई बार एडमिन निर्दोष होता है लेकिन सदस्यों के कृत्य के कारण वह मुसीबत में पड़ सकता है। सेटिंग को केवल एडमिन में बदलने से किसी भी मैसेज को फॉरवर्ड करते समय सदस्यों पर नजर रखने में मदद मिलेगी। यदि एक से अधिक एडमिन हैं तो इसे एक ही एडमिन में बदल दिया जाना चाहिए।

---------------------------------------------------------------
मेट्रो युग
हिंदी
https://metroyug.page
मेल: gnfocus@gmail.com
        metroyugmagazine@gmail.com
कॉल: 8826634380, 9310919359