ALL उत्तर प्रदेश उत्तराखंड बिहार नई दिल्ली मुंबई देश-विदेश
आगामी त्यौहारों के दृष्टिगत सुरक्षा एवं यातायात व्यवस्था के सम्बन्ध में डीजीपी द्वारा समीक्षा बैठक आयोजित की गयी
October 18, 2019 • Ajit Kumar Singh

उत्तराखंड : श्री अनिल के0 रतूड़ी, डीजीपी की अध्यक्षता में समस्त जनपद प्रभारियों एवं परिक्षेत्र प्रभारियों के साथ  पुलिस मुख्यालय स्थित सभागार में वीडियो कान्फ्रेसिंग के माध्यम से साईबर क्राईम रिपोर्टिंग पोर्टल, साक्षी संरक्षण योजना, आगामी त्यौहारों के दृष्टिगत सुरक्षा एवं यातायात व्यवस्था आदि के सम्बन्ध में समीक्षा बैठक आयोजित की गयी।

श्री रतूड़ी ने त्रिस्तरीय पंचायत चुनाव में मतदान शान्ति पूर्वक सम्पन्न कराने के लिए समस्त जनपद प्रभारियों को बधाई दी। साथ ही मतगणना हेतु विशेष सर्तकता बरतनें हेतु निर्देशित किया। साईबर क्राईम रिपोर्टिंग पोर्टल के सम्बन्ध में सभी जनपद प्रभारियों को निर्देशित करते हुए उन्होने कहा कि गृह मंत्रालय भारत सरकार द्वारा निर्गत निर्देशों का अवलोकन कर इस व्यवस्था को समझे और पोर्टल से प्राप्त शिकायतों को समय से निस्तारित कर लें।

श्री Ashok Kumar IPS, डीजी, अपराध एवं कानून व्यवस्था, उत्तराखण्ड ने कहा कि साईबर क्राईम में लगातार बढ़ोत्तरी हो रही है परन्तु थाना स्तर पर इनका पंजीकरण नही हो रहा है। साईबर क्राईम से सम्बन्धित शिकायतों को गम्भीरता से लें। समस्त जनपद प्रभारियों को निर्देशित करते हुए उन्होंने कहा कि ऐसे अपराधों को पंजीकृत किया जाये और इसके लिए व्यवस्था बनाई जाए। प्रदेश के समस्त जनपदों में साईबर सेल स्थापित किये गये हैं। उसमें नियुक्त प्रभारी को नोडल अधिकारी नियुक्त करें, जो समस्त थानों से समन्वय स्थापित कर साईबर क्राईम से सम्बन्धित सभी शिकायतों का निस्तारण कर जहां जरुरी हो मुकदमें पंजीकृत कराये। साथ ही समस्त जनपद प्रभारी इसकी मासिक समीक्षा भी करे।

वीडियो कान्फ्रेसिंग के दौरान निम्न निर्देश दिये गये-

👉🏻 आगामी दीपावली त्यौहार के दृष्टिगत विशेष सतर्कता बरतने तथा Visibility बढ़ाने एवं संवेदनशील, भीड़ भाड़ वाले स्थानों, बस स्टेशन, रेलवे स्टेशनों पर श्वान दल एवं बम निरोधक दस्ते की सहायता से सघन चैकिंग की जाये।

👉🏻 अयोध्या प्रकरण के दृष्टिगत साम्प्रदायिक दृष्टि से संवेदनशील स्थानों पर सर्तक दृष्टि रखने एवं विशेष सतर्कता बरतने हेतु निर्देशित किया गया। सोशल मीडिया पर अफवाहों को किसी भी दशा में ना फैलने दिया जाये, सोशल मीडिया पर निरन्तर निगरानी रखी जाये। यदि कोई भ्रामक सूचना फैलाई जाती है तो तुरन्त उसका प्रतिरोध किया जाये तथा भ्रामक सूचना फैलाने वालों के विरुद्ध कार्यवाही की जाये।

👉🏻 साक्षी संरक्षण योजना के अन्तर्गत माननीय उच्च न्यायालय के निर्देशों का अनुपालन करते हुए समस्त जनपदों में साक्षी संरक्षण सेल स्थापित कर मैदानी जनपदों में अपर पुलिस अधीक्षक एवं पर्वतीय जनपदों में पुलिस उपाधीक्षक स्तर के अधिकारी को नोडल अधिकारी नियुक्त किये जाने हेतु निर्देशित किया गया।

👉🏻 त्यौहारों के दृष्टिगत सुरक्षा व्यवस्था, भीड़ प्रबन्धन के साथ साथ यातायात प्रबन्धन पर भी विशेष ध्यान देने हेतु निर्देशित किया गया।

👉🏻 राष्ट्र विरोधी गतिविधियों के परिपेक्ष में सीमा पर SSB से समन्वय कर सभी संवेदनशील स्थानों पर सतर्कता बरती जाये।

मेट्रो युग
हिंदी मासिक पत्रिका
https://metroyug.page
मेल: gnfocus@gmail.com  कॉल: 8826634380