ALL उत्तर प्रदेश उत्तराखंड बिहार नई दिल्ली मुंबई देश-विदेश
48वें आईएचजीएफ दिल्ली मेला ऑटम 2019 में पहुंचे जल शक्ति मंत्री श्री गजेंद्र सिंह शेखावत
October 19, 2019 • Ajit Kumar Singh

48वें आईएचजीएफ दिल्ली मेला ऑटम 2019 में पहुंचे माननीय जल शक्ति मंत्री श्री गजेंद्र सिंह शेखावत

ग्रेटर नोएडा. 48वें आईएचजीएफ दिल्ली मेला ऑटम 2019 के तीसरे दिन माननीय जल शक्ति मंत्री श्री गजेंद्र सिंह शेखावत ने मेले का दौरा किया।
ईपीसीएच के महानिदेशक श्री राकेश कुमार ने कहा इस मेले में माननीय मंत्री महोदय के आगमन पर माणा गांव के उत्पादों पर आधारित एक फैशन शो आयोजित किया गया जिसमें मॉडलों ने माणा गांव के कारीगरों के बनाए उत्पादों को पहन कर रैंप वॉक किया।
उन्होंने बताया माणा गांव उत्तराखंड के चमोली जिले में 3200 किलोमीटर की ऊंचाई पर स्थित एक गांव हैण्जो वास्तव में माणा पास ;दर्रेद्ध से पहले चीन की सीमा से महज 24 किलोमीटर पहले भारत का अंतिम गांव है यहां के बासिंदे भोरतिया समुदाय की आखिरी पीढ़ी हैं।
श्री कुमार ने बताया कि माणा गांव के शिल्पकार कच्चे ऊन से बने उत्पाद बनाते हैं जैसे कि पंखी शॉल, खेस, ऊनी कपड़े इत्यादि टिकाऊ मुलायम या लचकदार इको फ्रेंडली होते हैं इन्हें पशुओं से प्राकृतिक तरीके से साल में एक बार प्राप्त किया जाता है।
ईपीसीएच के डिजाइनरों के मार्गदर्शन में इन कच्चे माल और माणा के कारीगरों की बारीकियों के साथ बाड़मेर ;राजस्थान की महिला कारीगरों के हाथ की शिल्पकारी कौशल को जोड़ा गया है ताकि उत्पादों की एक रेंज तैयार हो सके और साथ ही दोनों तरफ कई नए उत्पादों की संभावनाएं भी पैदा हों।
माणा गांव से 10 मास्टर शिल्पकार चुने गए थे जिनके सामान्य माणा कपड़ों जैसे कि पंखी शॉलए खेस को खास फैशन उत्पादों में विकसित किया गया जैसे कि ऊनी कोट शॉल टोपियां पोंचो श्रग पर्स साथ ही उन्हें इस मेले में अपने नए विकसित उत्पादों को प्रदर्शित करने के लिए जगह दी गई ताकि अंतरराष्ट्रीय खरीद समुदाय के साथ सीधी बातचीत कर वो अपने सीधे बिजनेस संपर्क बना सकें।
श्री राकेश कुमार ने कहा कि आईएचजीएफ.दिल्ली मेले जैसे आयोजनों के जरिए मार्केट लिंक बनने से निश्चित ही विश्व बाजार में माणा गांव के मौलिक उत्पादों की मांग में इजाफा होगा।

मेट्रो युग
हिंदी मासिक पत्रिका
https://metroyug.page
मेल: gnfocus@gmail.com  कॉल: 8826634380